गरीब कौन मोरल कहानी, Poor man hindi stories with moral

Poor man hindi stories with moral | Hindi stories

गरीब कौन मोरल कहानी : Poor man hindi stories with moral, बेटा आज बहुत कुछ परेशान लग रहा था जब से स्कूल से आया था तब से चुपचाप बैठा हुआ था वह कुछ सोच रहा था शायद उसकी समझ में कुछ नहीं आ रहा था इसलिए वह अपनी मां से बात नहीं कर रहा था कुछ देर तक मैंने देखा और अपने बेटे के पास जाकर पूछा कि तुम किस बारे में सोच रहे हो जिसकी वजह से परेशान लग रहे हो

Poor man hindi stories with moral

hindi stories.jpg

Poor man hindi stories with moral

मुझे वह बात बताओ जिससे कि तुम्हारी परेशानी को दूर कर सकूं बेटे ने अपनी मां से पूछा कि यह गरीब (Poor man कौन होता है मुझे इस बारे में बिल्कुल भी पता नहीं है तभी मां ने बताया कि गरीब वह होता है जिसके पास कुछ नहीं होता है जिसकी वजह से वह जीवन में परेशानी का सामना करता है वही गरीब होता है जबकि बेटे को अभी भी कुछ बातें समझ में नहीं आ रही थी उसके बाद भी बेटा चुपचाप बैठा हुआ था

 

मां ने पूछा कि अब तुम चुप क्यों हो जबकि मैंने तुम्हारे सवाल का जवाब दे दिया है तभी बेटे ने कहा कि आपने मेरी पूरी बात नहीं सुनी मैं यह जानना चाहता था कि गरीब  कौन होते हैं तभी मां ने बताया कि मैंने तुम्हें कुछ देर पहले बताया था कि गरीब (Poor man) कौन होते हैं तुम्हारी समझ में यह बात बिल्कुल भी नहीं आई है बेटे ने कहा कि आज मैं जब स्कूल से आ रहा था तभी मैंने एक भिखारी को देखा वह भीख मांग रहा था मुझे ऐसा लगता था कि वह बहुत गरीब है इसलिए भीख मांग रहा है

 

कुछ देर बाद ही उसके पास एक आदमी आया मैं भखारी उससे भीख मांगने लगता है वह आदमी कहता है कि मेरे पास तुम्हे देने के लिए कुछ भी नहीं है इसका मतलब यह बात साबित होती है कि वह भखारी गरीब नहीं है वह आदमी गरीब (Poor) है तभी मां ने उसकी पूरी बात सुनी अब मां को पता चल चुका था कि बेटे को वह उत्तर सही तरह से समझाना होगा जिसकी वजह से वह परेशान हो रहा है तभी मां ने कहा कि इस दुनिया में सभी गरीब होते हैं जिनके पास खाने के लिए कुछ भी नहीं होता वह भी गरीब होता है और जिनके पास भगवान ने सब कुछ दिया है वह भी गरीब होता है

 

क्योंकि वह किसी को कुछ देना नहीं चाहता जबकि भगवान ने उसे उतना दिया होता है जिससे कि वह दूसरों की मदद कर सकता था लेकिन वह मदद नहीं करता है मां अपने बेटे को समझाती है और कहती है कि जब तुम जीवन में बड़े बन जाओ बड़े आदमी कहलाने लगे तो तुम्हें दूसरों की मदद जरूर करनी चाहिए तुम्हें कभी भी किसी को खाली हाथ नहीं भेजना चाहिए जब तुम ऐसा करते हो तुम कभी गरीब (Poor) नहीं हो सकते जो इंसान सभी की मदद करते हुए आगे जाता है और भूख लगने पर खाना देता है चाहे उसके पास थोड़ा ही खाना बचा लेकिन वह उससे उनकी मदद करता है

 

आखिरकार वही इंसान गरीब नहीं होता और जो लोग ऐसा करते हैं वही जीवन में सफल हो सकते हैं इसलिए तुम्हें कभी भी गरीब (Poor) नहीं बनना है दूसरों की मदद अगर तुम जीवन में करते हो तो तुम कभी गरीब नहीं कहलाएंगे जब बेटे ने मां की बातें सुनी तो वह समझ गया था कि असली बात क्या है वह किस को गरीब मानता है तभी वह जीवन में ऐसे काम करता है जिससे कि उसे कभी भी कोई गरीब ना समझे वह दूसरों की मदद करता है जीवन में आगे बढ़ते हुए चला जाता है

कहानी का मोरल :-

कहानी हमे यही बताती है कि जीवन में सभी की मदद करनी चाहिए अगर आप भी गरीब नहीं बनना चाहते हैं तो दूसरों की मदद करते हुए जीवन में आगे बढ़ना चाहिए जब आप ऐसा करते हैं तो इससे दूसरों का भला होता है और दूसरे आपके लिए अच्छी कामनाएं करते हैं, गरीब कौन मोरल कहानी, Poor man hindi stories with moral, अगर आपको यह कहानी पसंद आई है तो आगे भी शेयर करें कमेंट करके हमें भी पता है.

Read more hindi stories :- 

दोस्ती की एक नयी कहानी

कामयाबी के रास्ते हिंदी मॉरल कहानी

एक धार्मिक कहानी

नया गांव मोरल कहानी

एक सच्ची दोस्ती क्या होती है

नई दुनिया की हिंदी कहानी

गरीब कौन मोरल कहानी

छोटी मोरल कहानी

एक अच्छे लड़के की कहानी

अपनी हिम्मत की हिंदी स्टोरीज

पहली मुलाक़ात स्टोरीज इन हिंदी

गोल्डन पेड़ की हिंदी कहानी

आलसी लड़के की हिंदी कहानी

एक पुराने घर की कहानी

मेरा सपना नई हिंदी कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *