Jadui chakki ki best hindi kahani and new jadui chakki story- जादुई चक्की की अच्छी कहानी

Jadui chakki ki best hindi kahani and new jadui chakki story

Jadui chakki ki best hindi kahani and new jadui chakki story, दो लोग आपस में बात कर रहे थे तभी वह आदमी सुन रहा था कि वह दोनों लोग जादुई चक्की के बारे में बात कर रहे हैं लेकिन उनके पास यह जादुई चक्की कहां से आई इस बात की खबर उस आदमी को बिल्कुल भी नहीं थी क्योंकि वह तो उनकी बातें सुन रहा था

Jadui chakki ki best hindi kahani : जादुई चक्की की अच्छी कहानी 

Jadui chakki ki best hindi kahani

Jadui chakki ki best hindi kahani

वह आदमी इन दोनों की बातों को सुनकर यह सोच रहा था कि अगर मुझे भी जादुई चक्की (Jadui chakki) के बारे में पता चल जाए तो बहुत अच्छी बात होगी उसका प्रयोग करके मैं बहुत कुछ कर सकता हूं वह दोनों आदमी बात कर रहे थे कि उन्हें वह जादुई चक्की (Jadui chakki) एक जगह पर पड़ी हुई मिली थी जिसकी वजह से वह उसे लेकर तो आ गए थे लेकिन उन्हें इस बात को लेकर बहस हो रही थी कि उसका प्रयोग करने के लिए किसके पास वह अधिक समय पर रहेगी

 

दूसरा दूर खड़ा हुआ आदमी है सुन रहा था कि वह चक्की किस तरह उनसे प्राप्त की जाए जिससे कि मुझे भी फायदा हो सके लेकिन उसे इस बारे में खबर नहीं थी कि वह चक्की (Jadui chakki) उन्हीं के पास है कुछ देर की बातों के बाद दोनों ने यह तय किया कि हम वह चक्की 1 सप्ताह में आधी आधी बार अपने साथ रखेंगे जब पहला आदमी उसका प्रयोग कर चुका होगा तो दूसरे के पास वह चक्की आ जाएगी और वह भी उसका प्रयोग कर पाएगा इस तरह दोनों में यह फैसला हो गया

 

लेकिन दूर खड़ा हुआ आदमी सोच रहा था कि मुझे भी इसका प्रयोग करना है उसके लिए मुझे उनकी चक्की उनसे लेनी होगी तभी मैं जादुई चक्की का प्रयोग कर पाऊंगा लेकिन उसके लिए मुझे उन दोनों के साथ रहना होगा जिसके बाद मुझे पता चल सकता है कि वह चक्की कहां पर रखी है वह उन दोनों आदमियों के पीछे पीछे जाने लगा क्योंकि वह अपने घर जा रहे थे जैसा कि तय हो चुका था कि बारी-बारी से वह जादू चक्की (Jadui chakki) का प्रयोग करेंगे इस तरह जब पहले आदमी की बारी आई तो जादुई चक्की को लेकर चला गया

 

जिसकी वजह से वह उसका प्रयोग कर सकता था और कुछ समय बाद दूसरे आदमी को वह चक्की लौटानी थी पहला आदमी उसका प्रयोग कर रहा था और दूर खड़ा हुआ आदमी उनकी खिड़की के पास जाता है और जादुई चक्की (Jadui chakki) का प्रयोग करना सीख जाता है जिसकी वजह से वह उसे चुरा कर ले जा सकता था उसके बाद उसका प्रयोग कर सकता था रात हो चुकी थी और वह चोर जो कि उनकी चक्की (chakki)को चुराना चाहता था उस आदमी के घर जाता है और उस चक्की को चुरा कर ले जाता है और जब वह चक्की का प्रयोग करना चाहता है तो उसके लिए उसे एक ऐसी जगह की तलाश थी जहां से कोई उसे देख ना पाए

 

वह जादुई चक्की का प्रयोग करने के लिए एक जंगल में जाता है और एक पेड़ के पास बैठ जाता है उस चक्की को देखता है और सोचता है कि है जबकि चक्की (Jadui chakki) मेरे सारे काम कर देगी अब मुझे चोरी करने की आवश्यकता भी नहीं होगी वह चोर और चक्की का प्रयोग करना चाहता है और जैसे उसका प्रयोग करने लगा तो वह चक्की थोड़ी सी हवा में उड़ गई थी जिसको देखकर वह चोर डर गया था

 

वह चोर तो इस बात को सोच रहा था कि जब मैंने उन्हें प्रयोग करते हुए देखा तो ऐसा कुछ भी नहीं हुआ था यह चक्की हवा में क्यों उड़ रही है मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा है इस तरह वह चोर चक्की का प्रयोग नहीं कर पा रहा था क्योंकि उसके हाथ में चक्की नहीं पहुंच पा रही थी चक्की (chakki) हवा में उड़ रही थी और वह इस बात को सोच रहा था कि जब तक मैं चक्की को अपने हाथ में नहीं लूंगा तब तक मैं इसका प्रयोग कैसे कर सकता हूं यह चक्की तो मेरे लिए बेकार है

 

बहुत देर कोशिश करने के बाद भी वह चोर आराम से बैठ जाता और सोचता है कि अब क्या किया जाए यह चक्की मेरे किसी काम की नहीं है तभी चक्की को देखता है और सोचता है कि यह चक्की हवा में उड़ रही है लेकिन यह कहां जा रही है चोर उसके पीछे पीछे जाता है और देखता है कि जहां से चक्की (chakki) को चुराया गया था वह उसी घर में चली जाती है चोर को तो बिल्कुल भी कुछ समझ में नहीं आ रहा था की चक्की को वह बड़ी मुश्किल से चुरा कर लाया था लेकिन मैं उसका प्रयोग नहीं कर पाया

 

मुझे ऐसा लगता है कि चक्की इन्हीं के हाथ से चलेगी मेरा इसमें कुछ भी काम नहीं हो पाएगा यह मेरे लिए बिल्कुल बेकार है इस तरह चोर वापिस चला जाता है क्योंकि वह समझ जाता है कि यह चक्की (Jadui chakki) मेरे किसी काम की नहीं होगी और अगले दिन सुबह ही वह आदमी फिर से उसका प्रयोग करता है और चक्की का प्रयोग आसानी से कर सकता था जब पहले आदमी का समय पूरा हो गया तो दूसरा आदमी चक्की को लेने आया और कहने लगा कि अब मेरा समय है पहला आदमी कहता है कि मैं जानता हूं कि अब चक्की तुम्हारे पास रहेगी और जब मेरा समय आ जाएगा तो मैं इसका प्रयोग करूंगा

 

लेकिन दूसरे आदमी के मन में लालच आ जाता है वह चाहता है कि यह चक्की वह पहले वाले आदमी को बिल्कुल भी ना लौटाए है इसलिए वह इस बात के बारे में सोचता है और यहां से दूर चले जाने के बारे में सोच रहा था कि जिससे कि वह आदमी मुझे कभी भी नहीं मिलेगा इस तरह वह गांव से बाहर जाने की कोशिश करता है जैसे मैं गांव से बाहर जाता है वह चक्की (chakki) गायब हो जाती है और वह इस बात को सोचता है कि चक्की कहां चली गई

Jadui chakki | jadui chakki story

तभी वह गांव में वापस आता है उस आदमी के पास जाता और कहता है कि हमारी चक्की गायब हो गई है तभी पहला आदमी कहता है कि मैं जानता हूं कि ऐसा क्यों हुआ क्योंकि तुम्हारे मन में लालच जरूर आया होगा यही कारण था कि जब भी हमारे अंदर लालच आ जाएगा यह चक्की किसी के भी पास नहीं रहेगी और इस तरह वह चक्की गायब हो चुकी थी अगर आपको यह जादुई चक्की की अच्छी कहानी, Jadui chakki ki best hindi kahani and new jadui chakki story, पसंद आई है तो आगे भी शेयर करें कमेंट करके हमें बताएं

Read More story in hindi :-

परियों की कहानी

भूखा शेर हिंदी कहानी

दो खरगोश और शेर की कहानी

अकबर बीरबल की तीन कहानी

अच्छे पेड़ की पंचतंत्र हिंदी कहानी

बच्चों की अच्छी कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *