Hindi stories for kids do Kharagosh aur sher- दो खरगोश और शेर की कहानी

Hindi stories for kids do Kharagosh aur sher

दो खरगोश और शेर की कहानी : hindi stories for kids, वह दोनों खरगोश साथ में ही रहा करते थे उन्हें साथ में रहना बहुत अच्छा लगता था इसलिए वह अपना साथ नहीं छोड़ना चाहते थे, मगर ऐसा दिन भी आ गया था की उन्हें अपना साथ छोड़ना पड़ा था यह सब कुछ उस शेर (sher) की वजह से हुआ था वह दिन दोनों कभी भी नहीं भूल सकते है क्योकि उस शेर ने उनकी जिंदगी ही बदल दी थी,

दो खरगोश और शेर की कहानी : hindi stories for kids

hindi stories for kids.jpg

hindi stories for kids

वह दोनों हमेशा ही साथ में सभी जगह पर जाया करते थे वह इस बात को जानते थे की उन्हें हमेशा साथ में रहना है मगर उस दिन वह अपने घर वापिस आ रहे थे तभी सामने शेर (sher) था आज वह शेर उनका सामना करना चाहता था आज उसे बहुत अच्छा शिकार मिल गया था अब वह जानता था की आज दोनों में से कोई भी नहीं बच पायेगा दोनों खरगोश (Kharagosh) बहुत ज्यादा डर गए थे वह नहीं जानते थे की शेर (sher) भी उनके सामने आ सकता था

 

तभी एक खरगोश (Kharagosh) कहने लगा की तुम्हे दूसरे रास्ते जाना होगा में शेर को अपने पीछे भगाता हु वह खरगोश भागने लगा था शेर उसके पीछे था दूसरा खरगोश (Kharagosh) दूर तक जा चूका था बहुत समय बीत गया था मगर वह खरगोश (Kharagosh) अभी तक घर नहीं आया था वह इस बता को सोचकर परेशान हो गया था की कही शेर ने उसे पकड़ तो नहीं लिया है उसके मन में बहुत से ख्याल चल रहे थे आज वह कुछ भी नहीं कर पाया था

 

बहुत समय से हम दोनों साथ में थे मगर अब उनका साथ छूट गया था अगला दिन आ गया था उसे यही लग रहा था की अब उसका दोस्त नहीं आने वाला है वह अब समझ गया था की हम दोनों बिछड़ गए है उधर शेर जब उसके पीछे जा रहा था तभी शेर एक जगह पर फंस गया था और वह खरगोश (Kharagosh) बच गया था मगर अब वह इतनी दूर आ गया था की वापिस पहुंचना बहुत मुश्किल लग रहा था वह रास्ता नहीं खोज पा रहा था क्योकि बहुत दूर तक वह जा चूका था

 

वह यही बात सोच रहा था की मेरा दोस्त यही सोचता होगा की शेर ने मुझे पकड़ लिया होगा वह बहुत दुखी होगा मगर में क्या कर सकता हु में तो यहां पर आ गया हु यह से रास्ता खोजना बहुत मुश्किल लग रहा है तभी हाथी आता है और कहता है की तुम यहां पर क्या कर रहे हो तभी खरगोश (Kharagosh) उसे देखता है और कहता है की आप यह अपर मुझे मिल जायँगे यह बता में नहीं सोच सकता था

 

वह खरगोश (Kharagosh) कहता है की में अपने दोस्त से अलग हो गया हु वह मुझे नहीं मिल रहा है वह पूरी बात  हाथी को बताता है और कहता है की मुझे अपने दोस्त के पास जाना है तभी हाथी कहता है की तुम्हे परेशान होने की जरूरत नहीं है में तुम्हे छोड़ देता हु उसके बाद वह हाथी उसे ले जाता है कुछ समय बाद वह अपने दोस्त के पास जाता है और दोनों फिर से मिल जाते है वह सब कुछ बताता है की उसके साथ  क्या हुआ था 

Hindi stories for kids

इस तरह दोनों खरगोश (Kharagosh) फिर से मिल जाते है और उन्हें अब साथ में रहना है क्योकि वह बहुत अच्छे दोस्त है एक शेर की वजह से सब कुछ बदल गया था मगर वह दोनों एक बार फिर से साथ में है, दो खरगोश और शेर की कहानी, hindi stories for kids, अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे

Read More kids story in hindi :-

परियों की कहानी

भूखा शेर हिंदी कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *