chuha billi ki old new kahani and billi aur chuha ki kahani- चूहे और बिल्ली नयी पुरानी की कहानी 

chuha billi ki old new kahani and billi aur chuha ki kahani

चूहा (chuha billi ki old new kahani) आज बहुत डरा हुआ था उसे लग रहा था कि बिल्ली आज उसे पकड़ सकती है क्योंकि बिल्ली ने कहा था (billi aur chuha ki kahani) कि कल मैं तुम्हें जरूर पकड़ लूंगी, आज तुमने मुझे बहुत परेशान कर लिया है लेकिन कल मैं तुम्हें जरूर पकड़ लूंगी यह बात सुनकर चूहा आज के लिए बहुत परेशान नजर आ रहा था

chuha billi ki old new kahani : चूहे और बिल्ली नयी पुरानी की कहानी 

chuha billi ki old new kahani

chuha billi ki old new kahani

क्योंकि वह बिल्ली (billi) से हर बार बच जाता था लेकिन इस बार बिल्ली ने बहुत सारे इंतजाम कर लिए थे जिसकी वजह से चूहा (chuha) नहीं बच पाएगा यह बात चूहा सोचकर बहुत ज्यादा डरा हुआ था लेकिन वह अपने बिल से बाहर तो जरूर आएगा इस बात को बिल्ली (billi) बहुत अच्छी तरह से जानती थी लेकिन आज चूहा (chuha) बिल से बाहर नहीं निकल रहा था वह जानता था कि बिल्ली उसका इंतजार कर रही है और वह उस पर हमला कर सकती है

 

इसलिए चूहे को कुछ ऐसी योजना सोचने थी जिसके बारे में बिल्ली (billi) बिल्कुल भी नहीं जानती होगी, तभी अचानक ही बारिश होने लगी और बिल्ली कहने लगी कि आज तो तुम बारिश की वजह से बच सकते हो क्योंकि बारिश हो रही है और मुझे यहां से जाना होगा लेकिन जब बारिश रुक जाएगी तो मैं तुम्हारा पीछा करूंगी और तुम्हें पकड़ लूंगी यह बात सुनकर चूहा (chuha) डरा हुआ था लेकिन बिल्ली वहां से जा चुकी थी यह बात चूहा (chuha) जानता था चूहा बाहर निकला और बारिश के मौसम में ही अपने लिए खाना खोजने लगा क्योंकि उसे भूख लगी हुई थी

 

वह बिल्ली बाहर पहरा दे रही थी जिसकी वजह से वह जा नहीं सकता था कुछ देर बाद ही चूहे ने अपने लिए भोजन ढूंढ लिया था और उसे खाकर वापस अपने बिल की ओर जा रहा था तभी देखा कि बारिश रुकने वाली है इसलिए चूहा बहुत तेजी से बिल की ओर जा रहा था जब चूहा (chuha) बिल की ओर जा रहा था तभी उसकी नजर बिल्ली पर गई बिल्ली (billi) बहुत तेजी से उसके पीछे आ रही थी और वह अचानक बिल के अंदर चला गया और इस प्रकार वह बिल्ली से बच गया लेकिन बिल्ली ने कहा कि आज तो तुम बच गए हो

 

लेकिन कब तक ऐसा चलता रहेगा मैं तुम्हें जरूर पकड़ लूंगी चूहा (chuha) उस बिल्ली से अपना पीछा छुड़ाना चाहता था लेकिन उसके लिए उसके दिमाग में ऐसी कोई योजना नहीं आ रही थी जिससे वह बिल्ली से अपना पीछा छुड़ा सके रात हो चुकी थी बिल्ली (billi) अपने घर वापस जा चुकी थी तभी एक चूहे का दोस्त आता है वह मिलने के लिए आया था क्योंकि रात हो गई थी इसलिए वह अपने घर नहीं जा सकता था चूहे के पास रुकने के लिए आ गया चूहे ने कहा कि तुम मेरे दोस्त हो मुझे एक राय दो यह बिल्ली (billi) मुझे बहुत परेशान करती है और हर रोज यहीं पर आकर बैठ जाती है और मेरा शिकार करना चाहती है मुझे उससे बचने के लिए क्या उपाय करने चाहिए

 

चूहा (chuha) अपने दोस्त से कहता है कि बिल्ली से बचने के लिए कोई ऐसा उपाय बताओ जिससे कि मैं बिल्ली के हमले से बच पाऊं चूहे का दोस्त कहता है कि यह तो बहुत आसान तरीके से किया जा सकता है जब भी बिल्ली (billi) यहां पर आएगी हम उन्हें बहुत सारे कांटे चुभा देंगे जिसकी वजह से बिल्ली यहां से भाग जाएगी यह सभी कांटे तुम्हें अपने बिल के बाहर रखने होंगे जिससे कि वह सभी कांटे उसे चुभ जाए वह तुम्हारे पर हमला करेगी और उसको बहुत सारे कांटे चुभ जाएंगे

 

चूहे (chuha) को अपने दोस्त की बातें बहुत अच्छी लग रही थी जिससे कि वह बिल्ली (billi) से बच सकता था और इसी तरह उन्होंने रात भर में बहुत सारे कांटे अपने बिल के पास लगा दिए थे जैसे ही सुबह को बिल्ली यहां पर रुकने के लिए आएगी उसको यह सभी कांटे चुभ जाएंगे और वह यहां से भाग जाएगी सुबह हो चुकी थी और बिल्ली चूहे (chuha) के बिल के पास आने ही वाली थी चूहे इंतजार कर रहा था और बिल्ली जैसे वहां पर आई तो चूहे के बिल के पास रखने कांटो से उसे बहुत परेशानी हो रही थी

 

क्योंकि सभी काटे बिल्ली को लगातार चुभ रहे थे जिसकी वजह से वह वहां पर रुक नहीं सकती थी और वहां से भाग जाती है चूहा बहुत खुश हो जाता है और बिल्ली (billi) से कहता है कि अब तुम यहां पर नहीं रुक सकती बिल्ली भी इस बात को समझ जाती कि यहां पर बहुत सारे कांटे लगे हुए हैं यहां पर रुकना मेरे लिए खतरनाक हो सकता है और इस प्रकार चूहे (chuha) बिल्ली के हमलों से बच गया था अब उसे कोई भी परेशानी नहीं थी जिसका सामना कर सकता था

Chuha billi ki kahani

बिल्ली (billi) चूहे पर हमला करने के लिए बहुत बार कोशिश कर चुकी थी मगर हर बार ही उसे वह कांटे लग जाते थे जिसकी वजह से वह उनके सामने नहीं आती थी अब चूहा पूरी तरह से सुरक्षित हो गया था बिल्ली को भी इस बात की समझ आ गई थी कि मैं उसके बिल के पास अब नहीं रुक सकती है क्योंकि वहां पर बहुत सारे कांटे लगे अबे चूहा बड़े आराम से वहां पर रह रहा था उसे किसी से परेशान होने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं थी अगर आपको यह कहानी (Chuha billi ki old new kahani and billi aur chuha ki kahani) पसंद आई है तो आगे भी शेयर करें कमेंट करके हमें पता है

Read More story in hindi :-

परियों की कहानी

भूखा शेर हिंदी कहानी

दो खरगोश और शेर की कहानी

अकबर बीरबल की तीन कहानी

अच्छे पेड़ की पंचतंत्र हिंदी कहानी

बच्चों की अच्छी कहानी

जादुई चक्की की अच्छी कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *